Monday, July 19, 2010


देशभर में गूँज रहा हिमालय पुत्र की आवाज़ का जादू ......
ध्रुव रौतेला
हिमालय की तलहटी पर बसा उत्तराखंड युं तो छोटा राज्य है मगर यहाँ की सांस्कृतिक धरोहरों ने देवभूमि वासियो को हमेशा गौरवान्वित किया है . इस पहाड़ी राज्य की माटी का कोई लाल यदि देश विदेश में चमक कर नाम कमाता है तो पूरा प्रदेश अभिमान से फूला नहीं समाता पिछले दिनों भारत की क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने कुमाऊ में अपनी ही जाती की साक्षी रावत से उत्तराखंड आकर विवाह किया और इन्टरनेट के माध्यम से जब साक्षी को शादी के दिन कुमाउनी पिछोड़ा और गुलोबंद पहने देखा तो मेरे जैसे कई हजार लोग भाव विभोर हो उठे. यही अपनेपन और क्षेत्रीयता का भाव होता है जिसकी जरुरत आज शिवम् पाठक को है . शिवम् पाठक का नाम अब अछूता नहीं रहा यह होनहार बालक सोनी चैनल में प्रसारित देश भर के अब तक के सबसे बड़े टेलेंट हंट शो ' इंडियन आईडियल' के अंतिम पांच प्रतिभागियो में अपना नाम सुनिश्चित करवा चुका है और अपनी मधुर आवाज से निर्णायको ही नहीं देश भर का चहेता बन गया है अब समय है की हम अपने एस.एम.एस वोटो की मदद से शिवम को विजेता बनाये जिसका वह हक़दार बन चुका है. दिखने में यह २० वर्षीय नौजवान अपने घुंगरालू बालो से गायक सोनू निगम के प्रारंभिक दिनों की यादे ताज़ा कराता है. शिवम के पिता घनश्याम मूल रूप से दसोली अल्मोड़ा के पाठक है और वर्तमान में यू.पी के लखीमपुर खीरी में लेखाकार के पद पर कार्यरत है. शिवम की बड़ी बहन आकांक्षा का विवाह भी कुमाऊ मूल के ही उप्रेती परिवार में हुआ है और वर्तमान में वह मुंबई में रहती है पिछले वर्ष कानपुर से इंटर करने के बाद शिवम हार्डवेयर नेटवर्किंग का कोर्से करने अपनी दीदी के वह मुंबई गया था बचपन से ही संगीत का शौक रखने वाला शिवम एक दिन अपने आदर्श सोनू निगम जैसा बनना चाहता था यही चाहत उसे प्रख्यात पार्स्व गायक सुरश वाडेकर के संगीत संस्थान में खीच कर ले गयी और वाडेकर की ही प्रेरणा से शिवम ने इंडियन आईडियल' का ओडिसन दिया जहा से उसकी प्रतिभा निखरकर आज सब के बीच आ चुकी है. शिवम की दीदी आकांक्षा लगातार कुमाऊ के लोगो से संपर्क में है और शिवम को वोट करने की अपील कर रही है शिवम का कार्यक्रम १९ जुलाई सोमवार और २० जुलाई मंगलवार को प्रसारित होगा . यदि शिवम पाठक इंडियन आईडियल' का विजेता बनता है तो उत्तराखंड का मान जरूर बढेगा.

2 comments:

  1. bahut sundar prasuti...
    likhte rahiye...
    Happy NEw year 2011

    ReplyDelete
  2. बहुते भल लिखी रो दा ज्यु

    ReplyDelete